कर्क राशि के जातक कैसे होते हैं,उनका व्यवहार कैसा होता है,वह अपने जीवन को कैसे जीते है

Table of Contents

कर्क राशि के जातक कैसे होते हैं,उनका व्यवहार कैसा होता है,वह अपने जीवन को कैसे जीते है

 

Image by Dorothe from Pixabay
Image by Dorothe from Pixabay



कर्क राशि 

कर्क राशि के जातक कैसे होते हैं, उनका व्यवहार कैसा होता है, वह अपने जीवन को कैसे जीते है, उनका पारिवारिक और वैवाहिक जीवन कैसा होता है इस पोस्ट में हम इसी बारे में जानेंगे।

  • कर्क राशि जल तत्व राशि है। 
  • कर्क राशि के प्रिय रंग नारंगी और सफेद है। 
  • कर्क राशि का वार सोमवार है। 
  • कर्क राशि का स्वामी चंद्र ग्रह है। 
  • कर्क राशि की मित्र राशियाँ वृश्चिक और मीन है। 
  • विवाह और साझेदारी के लिए मकर राशि कर्क राशि के लिए उत्तम है। 
  • कर्क राशि के भाग्यशाली अंक हैं 2,7,11,16, 20, 25 

 

चंद्र की राशि कर्क राशियों में चौथे पायदान की राशि है, शांत और भावुक चंद्र की ही तरह कर्क राशि के जातकों का स्वाभाव भी होता है, कर्क राशी वाले भावुक और सवेदंशील होते है,उन्हें घर और परिवार की बेहद फ़िक्र रहती है

र्कक राशी
वाले बहुत प्रेरक,अत्यधिक कल्पनाशील,वफादार,भावुक,दयालु और दृढ़ होते
है!कर्क राशि वालो को कला से बहुत लगाव रहता है,घरेलु कार्य पसंद करते
है,पानी में समय बीतना पसंद करते है,मित्रो के साथ समय बीतना और अच्छा भोजन
करना उन्हें बहुत पसंद होता है!

इसी
के साथ साथ कर्क राशि वाले अजनबियों का साथ पसंद नहीं करते ना ही उनके साथ
समय बीतना पसंद करते है,कोई उनकी आलोचना करे वे बिलकुल भी पसंद नहीं करते
और ना ही अपने निजी जीवन के बारे में किसी भी तरह का खुलासा पसंद करते है!

कर्क
राशि वालो के अवगुण देखे जाये तो उदासीन होते है,निराशावादी होते
है,चालाकी उनका अवगुण होता है,और हर समय असुरक्षित महसूस करते है!

कर्क
राशि वाले गहराई से सहज और भावुक होते है,इन्हें समझ पाना बहुत मुश्किल
होता है!कर्क राशि वाले बहुत वफादार और सहानभूति रखने वाले होते है!अपने
नजदीकी लोगो से दिल से जुड़े होते है और उनके दुःख दर्दो से सहानभूति रखने
वाले होते है!

 

कर्क राशि के जातकों की  शारीरिक रचना 

कर्क राशि के जातक प्राय दिखने में कोमल और खूबसूरत होते हैं। गोरे रंग के होते हैं और इनकी मुस्कुराहट बहुत खूबसूरत होती है, जिसकी वजह से इनके व्यक्तित्व में आकर्षण रहता है। बाल काले और काफी घने होते हैं, तीखे नैन नक्श होते हैं, उन्नत ललाट, खूबसूरत होंठ, जिससे इनकी मुस्कुराहट बहुत आकर्षक होती है।  

इन्हीं कारणों से यह आकर्षक व्यक्तित्व के होते हैं। हाथ लंबे होते हैं, मजबूत सीना और आत्मविश्वास से भरे हुए होते हैं। 


कर्क राशि के जातकों का  स्वभाव

कर्क राशि में जन्म लेने वाले व्यक्ति ज्यादातर शांत स्वभाव के होते हैं। अगर इन्हें कोई कुछ परेशान भी करता है तब भी यह ज्यादातर शांति ही रहते हैं। मधुर बोलने वाले होते हैं। स्वभाव से काफी विनम्र होते हैं और भावुक होते हैं। 

कर्क राशि वाले व्यक्ति ज्यादा मेहनत भरा काम नहीं कर पाते हैं और ज्यादातर वे ऐसे कार्य पसंद करना चाहते हैं जिसमें शारीरिक क्षमता के बजाए बौद्धिक क्षमता का उपयोग अधिक होता हो। 

कर्क राशि के जातकों में हीनता की भावना बहुत अधिक होती है। छोटी छोटी बातों पर या कोई भी कार्य इनकी रूचि के अनुसार न हो तो बहुत जल्दी परेशान हो जाते है और हीनता का शिकार हो जाते है। 

छोटी-छोटी बातों को बहुत बड़ा करना कर लेना इनकी आदत होती है, जिसकी वजह से यह अनावश्यक ही परेशान हो जाते हैं। 

 

कर्क राशि के जातकों के गुण 

कर्क राशि के जातकों का गुण प्रेरणादायक होता है, वे बहुत कल्पनाशील होते हैं, बहुत वफादार होते हैं, भावुक होते हैं, दयालु होते हैं और अपने निश्चय के पक्के होते हैं। 

अगर कर्क राशि के अवगुण देखे जाएं, तो कर्क राशि के व्यक्ति उदासीन होते हैं, बहुत जल्दी निराश होने वाले होते हैं, संदिग्ध होते हैं, बहुत चालाक होते हैं और हमेशा किसी अनजान भय से डरे रहते है। 

बातचीत करने में कर्क राशि के व्यक्ति बहुत बुद्धिमान और हाजिर जवाबी होते हैं। किसी भी विषय पर बात करने में सक्षम होते हैं और अगर यह किसी समूह में बैठे हो तो अपनी बातों और बुद्धिमता से सबको बांध लेते हैं और प्रभावित कर लेते हैं। 

अपनी इसी बुद्धिमानी और हाजिर जवाबी का यह अपने पूरे जीवन में उपयोग करते हैं।  कर्क राशि के जातक अपने बनाए हुए सिद्धांतों पर चलते हैं और यह जो सोच लेते हैं उसी के अनुसार चलते हैं किसी के सामने झुकना पसंद नहीं करते। 

अपने जीवन को ईमानदारी से जीना पसंद करते हैं। हमेशा सही का साथ देते हैं और कभी भी अन्याय  होते हुए नहीं देखते। 

कर्क राशि के जातकों को राजनीती में काफी सफल देखा गया है। कर्क राशि के व्यक्ति अदालत में न्यायधीश भी होते है। 

 

Read Also : लक्ष्मी नारायण के अन्य ज्योतिष संपर्क

 

कर्क राशि के जातकों का पसंदीदा क्षेत्र 

कला से संबंधित क्षेत्र में बहुत पसंद करते हैं, इन्हें घर के कार्यों का बहुत शौक रहता है, पानी के आसपास रहना पसंद करते हैं, लोगों की मदद करना इन्हें अच्छा लगता है, मित्रों के साथ घूमना फिरना इन्हें बहुत अच्छा लगता है। 

अगर कर्क राशि के जातकों की नापसंद देखी जाए तो यह अजनबी लोगों से दूर रहते हैं, अपने परिवार वालों की आलोचना पसंद नहीं करते हैं, अपना जीवन अपने अनुसार जीना चाहते है और यह नहीं चाहते की कोई भी इन्हे किसी भी तरह की रोक -टोक करे। 

कर्क राशि के जातक बहुत भावुक तो होते ही हैं लेकिन साथ ही  इन्हें समझ पाना भी मुश्किल होता है। 

कर्क राशि के जातक बहुत दयालु होते हैं और अपने परिवार के साथ दिल से जुड़े हुए होते हैं ,बहुत वफादार होते हैं और हर किसी से सहानुभूति रखते हैं, कर्क राशि के जातक हमेशा दूसरों की सहायता करने के  तैयार रहते हैं। 

 

कर्क राशि के जातकों का करियर

कर्क राशि के जातक शिक्षा के क्षेत्रों में काफी सफल रहते है, राजनीति के क्षेत्र में भी इन्हें काफी सफल होते देखा गया है। 

इनका भावुक स्वभाव इनके लिए काफी नुकसानदायक सिद्ध होता है और अक्सर यह भावुकता की वजह से अपने अपना काफी नुकसान करा बैठते हैं। 

कर्क राशि के जातक अपने कार्य को लेकर बहुत संवेदनशील होते हैं। जब भी उन्हें कोई कार्य मिलता है तो वह उसे बड़ी खुशी और सफलता के साथ पूरा करते हैं। कर्क राशि के जातकों को जो भी कार्य दिया जाए उसे देखने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं पड़ती, वह इमानदारी से उसे पूरा करते हैं। 

कर्क राशि के जातक ज्यादातर मेडिकल क्षेत्रों से संबंधित, सफाई कार्यों से संबंधित, ऑफिस कार्यों से संबंधित, पत्रकार, राजनीति से संबंधित और अच्छी श्रेणी के सरकारी विभागों से जुड़े हुए मिलते हैं। 

कर्क राशि वाले जातकों के लिए पैसा और धन कमाना बहुत महत्वपूर्ण होता है। वह अपने जीवन में काफी पैसा कमाते हैं और साथ ही पैसा कमाने के लिए उन्हें कोई विशेष परिश्रम करने की जरूरत नहीं पड़ती। कर्क राशि के व्यक्ति पैसा उड़ाना बिल्कुल भी पसंद नहीं करते। वह अपने धन को उचित स्थानों में निवेश करते हैं और अपने धन और पैसे को और बढ़ाते हैं। 

कर्क राशि के जातकों का बचपन काफी सुखी रहता है और युवावस्था के समय इन्हें अपने जीवन को लेकर कुछ परिश्रम और संघर्ष करने पड़ते हैं, फिर भी अपने मेहनत और लगन से यह धीरे-धीरे तरक्की करते हुए अपने जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं।  

कर्क राशि के व्यक्ति काफी कल्पनाशील होते हैं और अपने जीवन के लिए बड़े-बड़े सपने देखते हैं। जीवन में कई तरह की योजनाओं को बनाने में लगे रहते हैं। कर्क राशि के व्यक्ति बहुत कल्पनाशील होते है। 

कर्क राशि के व्यक्ति कल्पनाशील और अपनी बौद्धिक क्षमता की वजह से सफल कवि और लेखक भी बनते हैं। ज्यादातर अपने जीवन के लिए यह जो योजना बनाते हैं उनमें सफलता प्राप्त करते हैं। 

 

Read Also : Your Lucky Gemstone

 

कर्क राशि के जातकों का पारिवारिक जीवन 

कर्क राशि वाले जातक भावुक होते हैं, इसलिए रिश्ते और प्रेम उनके लिए बहुत महत्व रखता है और इन्हें लेकर वह काफी भावुक होते हैं। हमेशा अपने घर, परिवार, प्रेम, जीवनसाथी और अपने बच्चों को लेकर बहुत संवेदनशील होते हैं। उनके प्रति वफादार और समर्पित रहते हैं। 

कर्क राशि के जातक बहुत ही केयर करने वाले माता पिता बनते हैं। अपने परिवार और घर के प्रति बहुत सजग रहते हैं और उन्हें हर प्रकार की सुविधाएं देने के लिए प्रयासरत रहते हैं। कभी भी पारिवारिक जिम्मेदारियों से पीछे नहीं हटते, सभी मिलने वालों का बहुत सम्मान करना करते हैं।

कर्क राशि के जातकों का पारिवारिक जीवन साधारण ही रहता है। वह अपने परिवार, जीवनसाथी और अपने बच्चों से बहुत प्रेम करते हैं। दांपत्य जीवन में कुछ कष्ट रहते हैं। आपसी विचारों में मतभेद रहता है, फिर भी यह अपना वैवाहिक जीवन जीते हैं और अपनी धर्मपत्नी और बच्चों से बहुत प्यार करते हैं। 

 

कर्क राशि के जातक और रोमांस 

कर्क राशि के जातक संकोची स्वभाव के होते हैं, इसलिए कर्क राशि के व्यक्ति अपने संकोच की वजह से कभी भी पहल नहीं कर पाते। 

कर्क राशि के जातकों को आकर्षित करने के लिए आपको ही पहले पहल करनी होगी। वह अपने संकोची स्वाभाव की वजय से कभी भी पहल नहीं करेंगे। उनका प्यार पाने के लिए उन्हें सुरक्षित महसूस करवाना होगा। कर्क राशि के  जातक हमेशा सच्चे प्यार में विश्वास करते है।  

 

कर्क जातक और स्वामी ग्रह चंद्रमा

कर्क राशि के जातकों का स्वामी ग्रह चंद्रमा होता है। अगर कुंडली में चंद्रमा पर किसी भी तरह से शनि या राहु केतु का संबंध या प्रभाव हो जाए या दृष्टि पड़ जाए तो ऐसे में कर्क राशि के जातकों पर दिमागी असंतुलन आ जाता है और जीवन में पूर्ण फल प्राप्त नहीं होते और जीवन संघर्षमय हो जाता है। सफलताएं प्राप्त करने में संघर्ष करने पड़ते हैं और जीवन में कुछ कष्टों को भी झेलना पड़ता है। 

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए