वृषभ राशि के जातक बहुत शांत होते है और उन्हें सुख सुविधाओं वाला सांसारिक जीवन पसंद आता है

वृषभ राशि के जातक बहुत शांत होते है और उन्हें सुख सुविधाओं वाला सांसारिक जीवन पसंद आता है

Image by Dorothe from Pixabay
Image by Dorothe from Pixabay

 

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातक कैसे होते हैं

“वृषभ राशि के जातक कैसे होते हैं”, राशि चक्र के क्रम में वृष राशि दूसरे स्थान पर आती है। शुक्र ग्रह वृष राशि का स्वामी ग्रह होता है। वृष राशि का आकार या चिन्न बैल होता है। 

 

जैसा कि जाना जाता है, बैल बहुत शांत स्वभाव और मेहनत करने वाला होता है। वह किसी को कुछ नहीं कहता, अपने काम में लगा रहता है। लेकिन अगर उसे अनावश्यक ही परेशान किया जाए तो वह बहुत उग्र भी हो जाता है। बिल्कुल यही स्वभाव वृष राशि के जातकों में भी पाया जाता है। 

 

वृष जातक अपना जीवन शांति से जीना पसंद करते हैं। अगर उनके जीवन में किसी तरह का भी उतार-चढ़ाव आए तो वह बिल्कुल भी पसंद नहीं करते। इन्हें अपने जीवन में बदलाव बिल्कुल भी पसंद नहीं आता है। 

वृष राशि के जातक सामाजिक तौर पर मिलजुल कर रहने वाले होते हैं। बड़े प्रतिष्ठित लोगों को वह बहुत आदर देते हैं।  मेहमाननवाजी और सबका आदर सत्कार करना उन्हें अच्छा लगता है और ऐसा वे बढ़-चढ़कर करते हैं। 

 

वृष जातकों को शांत, सुख सुविधाओं वाला सांसारिक जीवन पसंद आता है। 

अपने काम के प्रति यह बहुत ईमानदार होते हैं और अपने काम के जरिए यह ज्यादा से ज्यादा धन कमाना चाहते हैं। उसमें वे सफल भी होते हैं। जिस किसी काम में भी हाथ डालते हैं, जब तक वह पूरा ना हो जाए उसे छोड़ते नहीं है। 

 

 Read Also : लक्ष्मी नारायण के अन्य ज्योतिष संपर्क

 

वृष जातकों को खूबसूरत और अच्छी चीजें बहुत पसंद आती है। 

वृष राशि के जातक सांसारिक सुविधाओं से भरा जीवन पसंद करते हैं। वृष राशि के जातक किसी के साथ भी धोखा नहीं करते। समाज की दृष्टि में वह विश्वसनीय होते हैं। अपने जीवन को बड़ी जिम्मेदारी से जीते हैं। समाज में व्यवहारिक होते हैं और इनमें धन कमाने की इच्छा और धन को जमा करने की प्रवति होती है। वह ऐसी योजनाओं में अक्सर धन का निवेश करते हैं जहां से उन्हें धन की अच्छी आवक बनी रहे। 

ज्यादातर देखा गया है वृष राशि के जातक लेखा विभागों से, अभिनय के क्षेत्रों से, निर्माता, निदेशक, कलाकार के क्षेत्रों से ,सजावट के व्यवसाय से ,सौंदर्य प्रसाधन व्यापार से ,या ऐसे उद्योग जिनमें आभूषण प्रसाधन की सामग्री आदि का निर्माण हो उनसे जुड़े हुए पाए जाते हैं। 

 

वृष राशि के जातक सरकारी विभागों में भी नौकरी करते हुए पाए जाते हैं। सेना या नौसेना में भी अच्छे पदों पर कार्यरत होते हैं। 

 

वृष राशि के जातक धन के मामले में बहुत भाग्यवान होते हैं और जीवन में अच्छा धन जमा करते हैं। 

 

 Read Also : Your Lucky Gemstone

 

जैसे कि वृष राशि का स्वामी शुक्र ग्रह होता है और शुक्र ग्रह प्रेम, आकर्षण, खूबसूरती विलासिता वाला जीवन का प्रतिनिधित्व करता है , इसलिए इसका असर वृष जातकों में भी देखने को मिलता है। इसलिए वृष जातकों में प्रेम की भावना खूब होती है, जिसका नतीजा यह होता है की वृष जातक किसी से भी प्रेम संबंधों में बहुत जल्दी पड़ जाते हैं। इनके जीवन में प्रेम और वासना का प्रभाव काफी देखने को मिलता है। 

 

वृष राशि के जातक विवाह और अपना दांपत्य जीवन बड़ी ही खूबसूरती के साथ जीना चाहते हैं। वह अपने जीवनसाथी का अपने प्रति पूर्ण आत्मसमपर्ण चाहते हैं। इनके वैवाहिक जीवन में अपने जीवन के साथ तनातनी चलती रहती है, लेकिन वह जीवन में कभी भी अपने जीवन साथी से अलग होने की नहीं सोचते।  

 

वृष राशि के जातक जातकों की शारीरिक क्षमता बहुत मजबूत होती है, इनकी शारीरिक रचना ऐसी रहती है कि ज्यादातर इन्हें स्वास्थ्य समस्याएं नहीं के बराबर होती है। कुछ गले को लेकर समस्याएं हो सकती हैं या छोटे-मोटे पेट से संबंधित रोग होने की संभावना होती है। 

 


इन्हें बाहरी खानपान और ऐसा भोजन जिसमें वसा अधिक हो, ऐसे भोजन से दूर रहना चाहिए। हल्का और सुपाच्य भोजन इन्हें अपने जीवन में शामिल करना चाहिए।  वृष जातकों का वजन जल्दी बढ़ता है, इसलिए इन्हें अपने वजन को बढ़ने देना नहीं चाहिए। जीवन में नियमित रूप से व्यायाम को शामिल करना चाहिए। 

 

भाग्यशाली अंक:        6,15,24,33,42,51 

अशुभ अंक:                1 , 2

भाग्यशाली रंग:         सफ़ेद , नीला , जमुनिया

भाग्यशाली दिन:        शुक्रवार , बुधवार

भाग्यशाली रत्न:         हीरा (ओपल ) , पन्ना

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए