वृश्चिक राशि की संपूर्ण जानकारी

वृश्चिक राशि

दोस्तों, आज हम इस पोस्ट में वृश्चिक राशि की संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश करेंगे, की वृश्चिक राशि का कैसा स्वाभाव होता है, वृश्चिक राशि के जातक कैसे होते है, उनकी रचना, आचरण, व्यवहार, आजीविका और वैवाहिक जीवन कैसा होता है।

वृश्चिक राशि (Scorpio)
चिन्ह – बिच्छू
राशि का स्वामी – मंगल
राशि के अक्षर – तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू
दिनांक – २१ अक्टूबर से २० नवंबर

वृश्चिक राशि के गुण

वृश्चिक राशि एक स्त्री जाती राशि है, स्वामी मंगल ग्रह है, कफ प्रकृति की होती है, इसकी दिशा उत्तर होती है, वर्ण ब्राह्मण, बहु संततिवान, दृन्द इच्छाशक्ति वाली, स्पष्टवादी, धार्मिक विचारों युक्त, तेज बुद्धि, सिद्धांतप्रिय, क्रोधी प्रकृति, निपुण, हठी तथा दंभी होती है।
वृश्चिक राशि से शरीर में जनेन्द्रियों के बारे में विचार किया जाता है।

Read Also : रत्नों सम्बंधित जानकारियां

वृश्चिक जातक

वृश्चिक राशि के जातकों की शारीरिक रचना गठीली होती है, सामान्य कदकाठी के होते है, संतुलित शरीर होता है, वृश्चिक जातकों का स्वामी ग्रह मंगल है, इसलिए इनका मुख कुछ लालिमा लिए रहता है, मुख पर तेज रहता है, और मंगल के ही कारण ये लोग कुछ उग्र स्वाभाव के रहते है, और क्षण भर में ही आवेश में आ जाते है।

वृश्चिक जातक संकल्पवान होते हैं और आत्मबल से भरे हुए होते है, जिस कार्य को अपने हाथ में लेते है, उसे पूरा करके ही छोड़ते है।
अपने जीवन में ख़ुशी ख़ुशी संघर्ष करते हुए आगे बढ़ते रहते है, और सफलता प्राप्त करते है।

वृश्चिक जातक एक तरह से वह मशीन है, जो चलती रहे तो अच्छी है, अगर रुक जाये तो उसमें जंग लग जायेगा।

वृश्चिक जातक और आजीविका

वृश्चिक राशि के जातक अत्यंत भावुक किस्म के होते है, बहुत परिश्रमी होते है, अपने कार्यो को बड़ी कुशलता से करने वाले होते है, वह जिस किसी भी व्यापार या कार्य से सम्बंधित होते है, वे उसे बड़ी ही कुशलता और मेहनत से करते है।

वृश्चिक जातकों को अगर कोई गुप्त कार्य करने को मिल जाये, तो इसमें उन्हें बड़ा आनंद आता है, और उसे यह बखूबी से पूरा करते है, कूटनीतिक कार्य और मिशन पुरे करने इन्हें बहुत अच्छे लगते है।
इन्हें जासूसी के कार्य करते हुए देखा जा सकता है, यह लोग सफल जासूस और सफल पुलिस अफसर देखे जा सकते है।

धन के मामले में देखा जाये तो इनके जीवन में उतार चढ़ाव रहता है, इनके जीवन में बहुत बार ऐसा होता है, की ये लोग ऐसे कार्य चुन लेते है, जिनको करने का कोई फायदा नहीं होता, केवल समय की बर्बादी होती है, और ना ही उससे कोई लाभ होता है।

अक्सर देखा गया है की, वृश्चिक जातक दो साधन अपनाते हैं, और अपनी मेहनत, परिश्रम और मानसिक योग्यता के बल पर सफल हो जाते है।

वृश्चिक जातक अपने प्रारंभिक जीवन में कठिनाइयों का सामना करते है, लेकिन अपनी महत्वकांशा और इच्छा शक्ति के बल पर धीरे धीरे यह लोग सफलता हासिल कर लेते है।

Read also: Gemstones and zodiac signs

यह लोग लिखने और बोलने में अच्छे माहिर होते है, इनकी खासियत यह होती है की, ये जिसके संपर्क में होते है, उसी की तरह ही हो जाते है।

व्यवसाय, साहित्यक रचना या राजनीती, चाहे जो भी क्षेत्र हो, उसमें ये अपना दिमाग लगा कर सफलता हासिल कर लेते है।
जिस किसी भी क्षेत्र में दिमाग या कूटनीति का इस्तेमाल होता हो, उसमें ये सफल हो जाते है, बहुत अच्छे वार्ताकार होते है, लेखक, चित्रकार, कवि, या संगीतकार के रूप में अच्छे सफल होते देखे गए है।
एक बात और, ये भाग्य के धनी भी होते है।

वृश्चिक राशि के जातक पुलिस विभाग, हॉस्पिटल से सम्बंधित कार्य, अग्निशमन सेवाएं, चिकित्सा क्षेत्र, उच्च प्रशासनिक अधिकारी, गणितज्ञ जैसे क्षेत्रों में अच्छे सफल होते देखे गए है।

वृश्चिक जातकों का प्रेम और वैवाहिक जीवन

वृश्चिक जातक अच्छे प्रेमी होते है, प्रेम के मामले में यह बहुत वफादार होते है, यह अगर किसी से प्रेम करते है, तो उस पर पूरी तरह से समर्पित हो जाते है, इतना प्रेम की अपने प्रेमी की मन की बातें भी समझ जाते है की वह क्या चाहता है। उनके ऐसे ही प्रेम की वजय से इन्हें भुलाना मुश्किल हो जाता है।

Read also: ब्लॉगिंग में अपना करियर कैसे बनाये

वृश्चिक जातक प्रेम में मौजमस्ती नहीं करते, ना ही प्रेम को जी बहलाने वाला खेल समझते है, यह दिल से जुड़ जाते है, और इनके इसी भोलेपन की वजय से कई बार इन्हें प्रेम में धोखे भी मिलते है।

वृश्चिक जातकों का विवाह अच्छे घर में होता है, और विवाह के बाद इनको जीवन में लाभ भी मिलता है,
इनका वैवाहिक जीवन सफल देखा गया है, बशर्ते इनके जीवनसाथी को इनके अनुसार चलना होता है, अगर ऐसा नहीं होगा तो इनके जीवन में कुछ टकरार रह सकती है,

ये अपने घर, गृहस्थ जीवन और बच्चों का बहुत ख्याल रखते है।

Please follow and like us:

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए