वृषभ राशि वाले को कौन सी अंगूठी पहननी चाहिए?

Opal

Opal एक बहुत ही खूबसूरत, रंगों से भरा हुआ रत्न। है सामान्य तौर पर जो Opal होते है, वह दूधिया रंग के होते है, उनके ऊपर किसी भी तरह के रंग नहीं होते,
लेकिन, जो शानदार और कीमती opal होते है, उनके ऊपर बहुत ही खूबसूरत इंद्रधनुष के समान रंग होते है।

Opal जितना खूबसूरत, कीमती और नाजुक रत्न है, उतना ही इसे संभाल कर रखना पड़ता है, शुक्र का रत्न है opal और हीरे का उपरत्न कहलाता है opal,

शुक्र के रत्न Opal को धारण करने से मुख्य रूप से जीवन को luxury life मिलती है, अच्छा घर, रहन सहन, कीमती गाड़ियों में घूमना, प्रेम संबंधो में सफलता, वैवाहिक जीवन में सुकून प्राप्त होता है।

वृषभ राशि के जातकों का शुभ रत्न ओपल

वृषभ राशि के जातकों का शुभ रत्न है Opal, नाम, प्रसिद्धि, शानदार जीवन शैली देता है, Opal रत्न, वृषभ राशि के जातकों को Opal रत्न जरूर धारण करना चाहिए।

अगर वृषभ राशि के जातक मॉडलिंग, टीवी, कला क्षेत्रों, पेंटिंग, एक्टिंग, फैंसी स्टोर्स, रेडीमेड गारमेंट्स, मिठाई दुकान, जैसे कार्यो से जुड़े है, तब तो ऐसे वृषभ जातकों के लिए अत्यंत चमत्कारी रत्न है, Opal

वृषभ राशि के जातकों को ओपल रत्न की अंगूठी धारण करनी चाहिए, ६ कैरट या उससे अधिक का ओपल रत्न चांदी की अंगूठी में बनवाकर धारण करें।

शुक्रवार के दिन सूर्योदय के बाद शुभ मुहूर्त में अपने इष्ट देव की पूजा करने के बाद, शुक्र देव की पूजा करें, तत्पश्चात शुक्र मन्त्र “ऊं शुं शुक्राय नम:” का १०८ बार जाप करते हुए धारण करनी चाहिए।

वृषभ राशि के जातकों लिए ओपल रत्न वैवाहिक आनंद, व्यक्तिगत जुड़ाव, और सुख सुविधाओं का देनदाता होता है।
दो प्रेमी जोड़ों के प्यार को मजबूत और कायम बनाए रखता है।

Read Also : रत्नों सम्बंधित जानकारियां

अगर वृषभ राशि के जातक आर्थिक समस्याओं से परेशान है, तो निश्चित ही उनका भाग्यरत्न उनको आर्थिक समस्याओं से बाहर निकालने में मदद करेगा, और एक अच्छी जीवनशैली की ओर बढ़ाएगा।

शुक्र ग्रह भव्य और शानदार जीवनशैली का दाता है, ऐसे में वृषभ राशि के जातकों को ओपल धारण से आर्थिक उनत्ति और शानदार जीवन शैली बनाए रखने में मदद करता है।
ओपल रत्न को सौभाग्य देने वाला रत्न भी बोला गया है, क्योंकि Opal का स्वामी शुक्र ग्रह सुख सुविधाओं और भोग विलास का कारक ही है।

किसी भी पुरुष के लिए उसकी जन्म पत्रिका में शुक्र का मजबूत होना आवश्यक है, क्योंकि पौरुष शक्ति का संचलान शुक्र ही करता है।

शुक्र का रत्न opal व्यक्तिगत जुड़ाव, वैवाहिक जीवन, प्रेम को नुकसान पहुंचाए बिना अन्य शानदार भौतिक सुख सुविधाओं को प्राप्त करने के लिए भी होता है

ओपल रत्न
ओपल रत्न

ओपल रत्न

Opal एक सफ़ेद रंग का बहुमूल्य रत्न है, इसके ऊपर लाल, नीली, हरे रंग की चमक होती है। जितने ज्यादा रंग और चमक होगी, उतना ही कीमती होगा ओपल। जिस Opal पर खूबसूरत रंग और चमक होती है, उसे Fire Opal बोला जाता है।

अच्छे, कीमती और खूबसूरत opal की प्राप्ति के स्थान है, ऑस्ट्रेलिया, इथियोपिया, मैक्सिको, ब्राजील, सूडान, और हंगरी।

विदेशों में तो इस रत्न की बहुत मांग है, विदेशों में इस रत्न को ज्योतिष की दृष्टि से बहुत सम्मान दिया जाता है और खूबसूरत ज्वैलरी में भी पहना जाता है।

Read also: Gemstones and zodiac signs

शुक्र ग्रह इस रत्न का स्वामी है, अगर किसी जातक की जन्म पत्रिका में शुक्र की कुछ कमियां है, तो वह भी पूरी करता है Opal रत्न।

वृषभ राशि के जातकों को ओपल धारण करने से प्रेम, मोहब्बत, खुशियां, सांसारिक सुख, अच्छा रहना, अच्छा पहनना, सभी सुविधाओं युक्त जीवन की प्राप्ति होगी।
समाज में मान सम्मान बढ़ेगा, घूमने, यात्राओं के योग बनेंगे।

वृषभ राशि के जातकों की आँखों के लिए लाभकारी रहेगा ओपल रत्न, पौरुष शक्ति को बढ़ाएगा यह रत्न, क्योंकि भोग विलास और शारीरिक संतुष्टि का ही जनक है ओपल का स्वामी शुक्र।

शुक्र का रत्‍न है ओपल

वृषभ राशि का स्वामी ग्रह होता है शुक्र, और शुक्र का शुभ रत्न है ओपल, इसलिए वृषभ राशि के जातकों का ओपल धारण करना भाग्यकारी होता है। अगर वृषभ राशि के जातकों की जन्म पत्रिका में शुक्र की कुछ कमजोरियां भी है, तो उन्हें पूरी तरह से दूर करेगा शुक्र का रत्न ओपल।

शुक्र ऐश्वर्यशाली जीवन, काम सुख, प्रणय, प्यार, धन-धान्‍य एवं सुख-समृ‍द्धि का देवता है, इसलिए वृषभ जातकों को ओपल धारण करने से मिलेंगे यह सभी सुख।

Read also: ब्लॉगिंग में अपना करियर कैसे बनाये

ओपल रत्‍न धारण करने से लाभ

फैंसी काम, आर्टीफिशल ज्वैलरी, फैंसी प्रसाधन और चूड़ियों के व्यवसाय करने वालों को आर्थिक उनत्ति देगा ओपल रत्न।
कला क्षेत्रों वाले, TV अभिनेता, फ़िल्मी जगत से जुड़े लोगो सो सफलता देगा ओपल रत्न।
प्रेमी प्रेमिका में मधुर सम्बन्धों को टूटने नहीं देगा शुक्र का रत्न ओपल।
पति पत्नी के जीवन में खुशियों की कड़ी बनेगा ओपल रत्न, दोनों को शारीरिक संतुष्टि देगा शुक्र का रत्न ओपल।

Opal रत्न धारण विधि

Opal रत्न को हमेशा चांदी की अंगूठी में धारण करना चाहिए, ओपल एक ठंडा रत्न है और चांदी भी एक ठंडी धातु है, इसके अलावा चांदी शुक्र ग्रह की धातु भी है, इसलिए opal को हमेशा चांदी की अंगूठी में ही धारण करना चाहिए,

Opal रत्न को अंगूठी के अलावा locket, Bracelet में भी धारण किया जा सकता है।

Opal का रंग सफ़ेद और दूधिया होता है, इसके ऊपर रंग होते है और बगैर रंग का भी आता है, साधारणतौर पर बगैर रंग के ही Opal ज्यादातर धारण किये हुए मिलेंगे, ऐसा इसलिए की रंगीन opal बहुत कीमती होते है, इन्हें धारण करना हर किसी के लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है।

लेकिन इसका मतलब ऐसा नहीं है की बगैर रंग का opal लाभकारी नहीं होता, ऐसा opal भी धारण करने से शुक्र के पूर्ण लाभों की प्राप्ति होती हैं।

Opal किसी पहचान की दुकान से ही ख़रीदे और साफ सुथरा, दाग रहित होना चाहिए।

Opal की अंगूठी को बनवाकर शुक्रवार सूर्योदय के बाद धारण करना चाहिए, शुभ मुहूर्त का विशेष ध्यान रखना चाहिए,

Opal की अंगूठी को पुरे विधि विधान से पूजा करके, शुक्र मन्त्र “ॐ शुं शुक्राय नम:” का 108 बार जपते हुए धारण करना जरुरी होता है, नहीं तो opal सिद्ध नहीं होगा और कारगर नहीं होगा।

Please follow and like us:

1 thought on “वृषभ राशि वाले को कौन सी अंगूठी पहननी चाहिए?”

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए