मिथुन राशि वाले को कौन सा रत्न पहनना चाहिए

मिथुन राशि का भाग्यरत्न पन्ना

मिथुन राशि का भाग्यरत्न पन्ना होता है । पन्ना, बुध ग्रह का प्रतिनिधित्व रत्न है पन्ना, बुध ग्रह की ऊर्जाओं का संचालन करता है पन्ना।
हरे रंग के इस खूबसूरत रत्न में बहुत चमत्कारिक शक्तियां होती है,

पन्ना रत्न धारण से मिथुन राशि के जातकों का भाग्य खुलता है, पन्ना उनकी राशि के स्वामी का रत्न है। बुध की सकारत्मक ऊर्जाओं को ग्रहण करने और बुध ग्रह को प्रसन्न करने के लिए मिथुन राशि के जातकों को पन्ना जरूर धारण करना चाहिए।

जातकों के जीवन में खुशियां लाता है पन्ना, हर मुश्किलों से निकालता है बुध का रत्न पन्ना
धन की परेशनियों को दूर रखता है। पन्ना धारण से कला क्षेत्रों, वाणिज्य, शिक्षा, गणित, कॉमर्स , चार्टेड अकाउंटेंट, शेयर बाजार, इन्शुअरन्स, बैंकिंग, रेलवे आदि जैसे क्षेत्रो में सफलता मिलत है।

Read Also : रत्नों सम्बंधित जानकारियां

मिथुन राशि के जातक और मिथुन राशि का भाग्यरत्न पन्ना

मिथुन राशि का चिन्न होता है, जुड़वां औरतें, इसलिए मिथुन जातकों का स्वाभाव भी अपने राशि चिन्ह की तरह दोहरा होता है, वह अपने जीवन में हर क्षेत्र को लेकर हमेशा दोहरे विचार में रहते है, वे कभी भी अपने डीसीजन को लेकर एक नहीं रहते।

लम्बे कद और पतले दुबले शरीर के होते है, मौज मस्ती करने के शौकीन होते है, बुद्धिमान होते है और अपने जीवन में बार बार बदलाव करते रहते है।

लेकिन उनके जीवन में बुध ग्रह का प्रभाव होने की वजय से वे काफी बुद्धिमान होते है, अपने आस पास होनेवाली घटनाओं के बारे में पूरी जानकारी रखते है, पढ़ाई लिखाई में अच्छे होते है, ज्ञानवर्दक और जानकारी भरी किताबें पढ़ना इनका शौक रहता है,

बुद्धिमान और पढ़े लिखें होने की वजय से यह लोगों में अच्छे प्रसिद्ध होते है।

मिथुन जातक अपने जीवन में कई प्रकार के कार्य करते देखे गए है, वे कभी भी एक काम में टिक कर नहीं रहते। उनके कार्यो में बदलाव होते रहते है।

उन्हें ऐसे कार्य बहुत पसंद आते है, जिनमें उन्हें एक जगह से दूसरी जगह घूमना पड़े, उनकी इसी एक जगह नहीं टिकने की आदत की वजय से वे जीवन में वह सफलता नहीं पा पाते जिसके वे अधिकारी होते है।

मिथुन राशि के जातक ज्यादातर लेखक, संपादक, कंप्यूटर क्षेत्र, टूशन इंस्टिट्यूट, चार्टेड अकाउंटेंट, वकील, छपाई कार्य, बैंकिंग, इन्शुरन्स, आदि जैसे क्षेत्रो में अच्छी तरक्की करते हुए मिलते है।

मिथुन राशि का भाग्यरत्न पन्ना
मिथुन राशि का भाग्यरत्न पन्ना

पढ़े लिखे और आकर्षक होने की वजय से यह लोग महिलाओं द्वारा भी काफी पसंद किये जाते है, और इनकी बहुत सी महिला मित्र भी होती है।
लेकिन मिथुन जातक कभी भी अपने प्रेम संबंधो को लेकर संजीदा नहीं रहते है, यही कारण होता है की इनके प्रेम सम्बन्ध कभी भी सफल नहीं हो पाते।

मिथुन जातकों का वैवाहिक जीवन भी तभी सफल हो पाता है, अगर इनका जीवनसाथी इनके अनुसार चलने वाला होता है, अगर ऐसा नहीं होगा तो इनके वैवाहिक जीवन में लड़ाई झगड़े चलते रहते है।

मिथुन राशि जातकों के स्वामी बुध का पन्ना धारण करने से इनके जीवन के हर क्षेत्र में संतुलन बना रहता है, इसलिए मिथुन जातकों को अपने स्वामी ग्रह बुध को मजबूत रखना चाहिए।

Read also: Gemstones and zodiac signs

बुध ग्रह और मिथुन राशि का भाग्यरत्न पन्ना

बुध ग्रह की मिथुन राशि को राशिचक्र में तीसरा स्थान प्राप्त है,

नवग्रहों में सभी ग्रहों के प्रतिनिधि रत्न है, जो उनकी ऊर्जाओं का संचालन करते हुए अच्छे बुरे प्रभावों को प्रदान करते है,
इन्हीं नवग्रहों में “राजकुमार ग्रह” बुध का रत्न होता है पन्ना, जो मिथुन राशि के जातकों का शुभ रत्न भी है,

बुध वाणी का ग्रह है, बुद्धि और शिक्षा का ग्रह है, बुध ग्रह व्यापार और व्यवसाय का कर्ता धर्ता है, इसलिए बुध ग्रह का सभी नवरत्नों में विशेष स्थान है,
बगैर बुध के शिक्षा और व्यवसाय और गणित विषय में सफलता प्राप्त करना संभव नहीं है।

भाषण देने की कला के लिए, अच्छे वक्ता बनने के लिए भी बुध ग्रह का साथ होना अतिआवश्यक है।

व्यापार और धन और आर्थिक लाभ देने वाला होता है बुध ग्रह, अगर बुध ग्रह कमजोर पड़ जाये तो आर्थिक संकटों और कर्जो में डूब सकते है।

सामाजिक उनत्ति, भाषण देने की शैली, प्रदान करता है बुध ग्रह, अगर बुध ग्रह कमजोर पड़ जाये, तो वाणी दोष, जिव्हा बीमारी और सामाजिक बुराइयां देता है।

बुद्धि का जनक है बुध ग्रह, विद्यार्थियों के लिए बुध ग्रह की शुभता बहुत जरुरी है, उच्च शिक्षा, नौकरी, अच्छा बिजनेस प्रदान करता है बुध ग्रह।

मिथुन जातक और पन्ना धारण करने के लाभ।

मिथुन जातक और पन्ना धारण करने के लाभ।

पन्ना धारण करने से पारिवारिक सुख शांति की प्राप्ति होती है, परिवार में खुशियां आती है, व्यापार में सफलता मिलती है, घर की आर्थिक स्थितियां मजबूत रहती है।

अगर मिथुन जातक अच्छी और उच्च शिक्षा की प्राप्ति करना चाहते है, तो उन्हें पन्ना आवश्य धारण करना चाहिए।

मिथुन जातकों को सरकारी नौकरी की प्राप्ति और लाभ देता है बुध का रत्न पन्ना, यश और सम्मान दिलाता है पन्ना

पन्ना धारण करने से विदेश जाकर नौकरी करने के योग बनते है।

जिन मिथुन जातकों की जन्मपत्रिका में बुध कमजोर है, उन जातकों के लिए पन्ना एक चमत्कारी रत्न साबित हो सकता है, उनकी सफलता की रुकावटें ख़त्म हो जाती है।

अगर कोई मिथुन जातक वकालत, जज, और प्रोफेसर बनने की तैयारी कर रहा है, तो मिथुन जातकों को पन्ना आवश्य धारण करना चाहिए।

Read also: ब्लॉगिंग में अपना करियर कैसे बनाये

बुध रत्न पन्ना धारण विधि

पन्ना बुध का रत्न है, इसलिए पन्ना हमेशा बुधवार के दिन, सूर्योदय के बाद शुभ मुहूर्त देखते हुए धारण करना चाहिए।

पन्ना सोने, अष्टधातु की अंगूठी में बनवाकर धारण करना चाहिए, पन्ना अंगूठी के अलावा लॉकेट या ब्रासलेट में भी धारण किया जा सकता है।

पन्ना हमेशा सीधे हाथ ही कनिष्ठा उंगली में ही धारण करना चाहिए।

पन्ने की अंगूठी को धारण करने से पहले गंगाजल से शुद्ध कर लेना चाहिए, उसके बाद उसे पूजा के स्थान पर रखकर उसकी विधि विधान पूजा करने के बाद बुध मंत्रो का 108 बार जाप करने के बाद ही धारण करे।

हमेशा खूबसूरत हरा रंग, साफ सुथरा , दाग धब्बों रहित पन्ना ही धारण करना चाहिए, अन्यथा पन्ना फायदे की जगह नुकसान देने लग जाता है।

पन्ना एक बहुमूल्य है, यह रत्न 500 रूपए प्रति कैरट से शुरू होकर 50,000 रूपए प्रति कैरट तक का होता है,
अगर कोई जातक पन्ना धारण नहीं कर पाता है, तो वह पन्ने की जगह हरा ओनिक्स या हरी तुरमलिन भी धारण कर सकता है।

Please follow and like us:

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए