नक्षत्र और उनके देवता

28 नक्षत्र के देवता

प्रणाम दोस्तों, नक्षत्र और उनके देवता की इस पोस्ट में हम नक्षत्रों और उनके स्वामी देवताओं के नाम जानेंगे।
वैसे तो 27 नक्षत्र माने गए है, लेकिन इसमें एक अठाईसवें नक्षत्र का भी जिक्र किया गया है, दरअसल इस अठाईसवें नक्षत्र “अभिजीत” का सभी शुभ कार्यों में प्रशस्त माना गया है।

best astrologer in bilaspur chhattisgarh,भिलाई दुर्ग ज्योतिष

27 नक्षत्रोंऔर उनके स्वामी ग्रह के बारे में हम पिछली पोस्ट में जानकारी प्रदान कर चुके है, आइये इस पोस्ट के माध्यम से हम जानकारी प्राप्त करेंगे की किस नक्षत्र का कौन सा देवता है।

Read Also: Navratnas

क्र.नक्षत्रस्वामी देवता
1.अश्विनीअश्विनीकुमार
2.भरणीकाल
3.कृत्तिकाअग्नि
4.रोहिणीब्रह्मा
5.मृगशिराचंद्रमा
6.आद्रारूद्र
7.पुनवर्सुअदिति
8.पुष्यब्रहस्पति
9.आश्लेषासर्प
10.मघापितर
11.पुर्व फाल्गुनीभग
12.उत्तरा फाल्गुनीअर्यम्मा
13.हस्तसूर्य
14.चित्राविश्वकर्मा
15.स्वातिवायु
16.विशाखाशुक्रराग्नि
17.अनुराधामित्र
18.जयेष्ठाइंद्र
19.मूलनिरश्ति (राक्षस)
20.पूर्वाषाढ़ाजल
21.उत्तराषाढ़ाविश्वेदेवा
22.अभिजीतब्रह्मा
23.श्रवणविष्णु
24.घनिष्ठावसु
25.शतभिषावरुण
26.पूर्वा भाद्रपदअजैकपाद
27.उत्तरा भाद्रपदअर्हिबुद्धनय
28.रेवतीपूषा

best astrologer in odisha and chhattisgarh

Please follow and like us:

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए