Agate Hakik हकीक पहनने के फायदे

हकीक

ColourAvailable in almost all colors
Hardness6.5 to 7.0
Gravity2.60 to 2.65
Chemical CompositionSilicon Dioxide
TransparencyFull opaque

मई और जून में जन्म लेने वालों के लिए हकीक पहनने के फायदे

मई और जून में जन्में लोगों का भाग्यशाली रत्न हकीक है, आइए जानते हैं हकीक पहनने के फायदे,
वैसे तो हकीक एक ऐसा रत्न है जिसे कोई भी कभी भी पहन सकता है, लेकिन मई और जून में जन्में जातकों को यह विशेष लाभ प्रदान करता है,
क्योंकि ज्योतिष की गणना के अनुसार मई और जून में जन्में जातकों की राशि के लिए यह रत्न विशेष रूप से प्रभावी होता है।

हकीक रत्न को धारण करने के फायदे ही होते हैं, इसके कोई दुष्प्रभाव नहीं होते, यह रत्न अपने पहनने वाले को लाभ प्रदान करता है, यही कारण है कि प्राचीन काल से ही इस रत्न को धारण किया जाता रहा है, इतिहास में भी हकीक धारण करने के बहुत लाभ पढ़ने को मिलते हैं।

Read Also: क्या कहती है आपकी राशि

हकीक एक ऐसा अपारदर्शी रत्न है जो लगभग सभी रंगों में पाया जाता है, हकीक पर धारियां पाई जाती हैं, जो कई रंगों की हो सकती हैं या एक ही रंग की हो सकती हैं।
कुछ हकीक में ये धारियां सीधी होती हैं, कुछ में क्षैतिज होती हैं, कई Hakik में बहुत ही सुंदर आकृतियाँ पाई जाती हैं, जैसे कि पेड़, झाड़ियाँ या जानवर,
ऐसा हकीक जिस पर कोई आकृति बनी हो, वह अगेट अच्छा और मूल्यवान माना जाता है।

हकीक कैल्सीडोनि समूह का ही एक रत्न है, Hakik ज्यादातर ज्वालामुखी पर्वतों के आसपास पाया जाता है, इनकी रचना पृथ्वी में सिलिका के जमाव के कारण होती है।

Agate (सुलेमानी हकीक) चीन, भारत, मैक्सिको, संयुक्त राज्य अमेरिका और अन्य देशों में पाया जाता है, Agate के विशेष स्टोर ब्राजील और उरुग्वे में पाए जाते हैं।
Hakik एक बहुत ही कठोर रत्न है, जिसके कारण इनका उपयोग औद्योगिक रूप से भी किया जाता है।

Hakik का प्रयोग प्राचीन काल से चला आ रहा है, प्राचीन काल के लोग इस रत्न को शुभ मानते थे और इसे कई लाभों के लिए उपयोग करते थे, जिनका उल्लेख हम आगे करेंगे।

इसके अलावा ज्योतिष में हकीक का प्रयोग राशि के अनुसार और ग्रहों को उनके रंग के अनुसार किया जाता है।

प्राचीन मान्यताओं के अनुसार Hakik को धारण करने से व्यक्ति के साहस और सहनशक्ति में वृद्धि होती है, यदि किसी को नींद न आने की समस्या हो तो यह समस्या समाप्त हो जाती है, रात को सोते समय बुरे सपने नहीं आते।

यदि Hakik को गले या दाहिने हाथ में धारण किया जाता है, तो व्यक्ति के शरीर की रक्षा होती है, आर्थिक प्रगति और धन आगमन में वृद्धि होती है, व्यक्ति की बोलने और बोलने की क्षमता में वृद्धि होती है।

लोगों में यह भी दृढ़ विश्वास था कि अगर किसान अपने बैलों के गले में Hakik बांधता है, या उसे अपने कृषि वाहन जैसे ट्रैक्टर या कृषि उपकरण से बांधता है, तो बहुत अच्छी उपज होती है।
इसे बगीचे में पेड़ों पर बांधने से बहुत अच्छी उपज और लाभ मिलता है।

Read Also: आपका भाग्यशाली रत्न क्या है

प्राचीन मान्यताओं के अनुसार यदि किसी व्यक्ति को बिच्छू ने काट लिया हो तो जिस स्थान पर बिच्छू ने काटा था उस स्थान पर Hakik बांधने से विष का प्रभाव कम हो जाता है।
पुरानी मान्यता के अनुसार यदि सिंहनी के बालों की डोरी बनाकर गले में Hakik धारण किया जाए तो व्यक्ति को समाज में प्रतिष्ठा प्राप्त होती है, जातक शक्तिशाली होता है, शत्रुओं का नाश होता है और व्यक्ति ठगा नहीं जाता है।

रंग के अनुसार Hakik धारण करने के लाभ :-

व्यापार में सफलता, धन लाभ, राहु और शनि के दोषों को दूर करने, मानसिक शांति के लिए और तनाव दूर करने के लिए सुलेमानी हकीक पहनना चाहिए।

अध्यात्म में सफलता प्राप्त करने और धार्मिक कार्यों में शामिल होने के लिए सफेद Hakik धारण करना चाहिए।

अपने जीवन को सच्चाई से जीने और धन, सुख-समृद्धि प्राप्त करने के लिए पीला Hakik धारण करना लाभकारी होता है।

शांतिपूर्ण और सुखी जीवन के लिए, अच्छी नींद के लिए नीला Hakik पहनना चाहिए।

शिक्षा में सफलता के लिए, उच्च शिक्षा के लिए, बौद्धिक क्षमता बढ़ाने के लिए, व्यापार और आर्थिक सफलता के लिए हरा Hakik पहना जाना चाहिए।

Hakik धारण करने के अन्य लाभ :-

Hakik एक ऐसा रत्न है जो आपके आस-पास नकारात्मक ऊर्जाओं को निवास नहीं करने देता है।
भूतों के साये से बचने के लिए हकीक पहनना बहुत ही लाभकारी माना जाता है।
मध्यमा अंगुली में Hakik की अंगूठी या लॉकेट पहनने से शनि और राहु से संबंधित दोष दूर हो जाते हैं।
Hakik धारण करने से लोहा, तेल, टायर, औद्योगिक पुर्जे, कोयला, मशीनरी आदि से संबंधित व्यवसाय में सफलता मिलती है।
हकीक धारण करने से दरिद्रता दूर होती है और व्यक्ति के भाग्य में वृद्धि होती है।
अगर Hakik की माला से तांत्रिक साधना की जाए तो सफलता बहुत जल्दी प्राप्त होती है।

लग्नानुसार रत्न निर्धारण

Hakik रत्न कब धारण करें

हकीक रत्न को अपनी सुविधानुसार किसी लॉकेट या अंगूठी में बनवाना चाहिए, उसके बाद किसी शुभ शनिवार की शाम को इस रत्न की अंगूठी को गंगाजल से शुद्ध करें,

सुलेमानी हकीक को दाहिने हाथ की मध्यमा अंगुली में धारण करना चाहिए।

इसे शुद्ध करने के बाद Hakik को पूजा स्थल पर रखकर पूजन करें।
इसके बाद शनि मंत्र “ॐ शं शनिश्चराय नमः” का 1100 बार जाप करने के बाद Hakik की अंगूठी मध्यमा अंगुली में धारण करनी चाहिए।

1 thought on “Agate Hakik हकीक पहनने के फायदे”

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए