मूंगा किस उंगली में पहनना चाहिए

मूंगा किस उंगली में पहनना चाहिए

 

मूंगा किस उंगली में पहनना चाहिए
मूंगा किस उंगली में पहनना चाहिए

 

लाल मूंगा रत्न धारण की शुभ उंगली

 

मूंगा किस उंगली में पहनना चाहिए यह बहुत महत्त्व रखता है, क्योंकि गलत उंगली में धारण किया गया लाल मूंगा अशुभ प्रभाव देने लगता है।

किस रत्न को किस ऊँगली में धारण किया जाये यह बहुत महत्व रखता है, क्योंकि हर रत्न के लिए एक उंगली निर्धारित है, जिस प्रकार हर ग्रह का रत्न निर्धारित है ठीक उसी प्रकार उस रत्न को किस उंगली में धारण किया जाये, जिससे की वह अपने पूर्ण शुभ फल प्रदान कर सकें और गलत उंगली में धारण करने से वह कहीं अशुभ प्रभाव ना देने लगे,

केवल रत्न के लिए उंगली ही नहीं किसी भी रत्न को धारण करने का दिन और धातु भी निर्धारित है, अगर हम इसमें बदलाव करते है तो या तो हम उसके समस्त प्रभाव पाने से वंचित रह जाते है या फिर हमें उसके अशुभ प्रभाव भी प्राप्त हो सकते है, 

 

Read Also: लग्नानुसार रत्न निर्धारण

ऐसे ही हम मंगल के रत्न लाल मूंगे की बात कर रहे है, ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल रत्न लाल मूंगा के लिए अनामिका उंगली निर्धारित की गई है, हम मंगल के सबसे श्रेष्ठ और शुभ प्रभाव अनामिका उंगली में ही धारण करके प्राप्त कर सकते है, अनामिका ऊँगली में सूर्य रत्न माणिक्य भी धारण किया जाता है,
सूर्य और मंगल की घनिष्ट मैत्री और श्रेष्ठ उंगली अनामिका ही है, अगर हम लाल मूंगा को किसी दूसरी उंगली में धारण करते है तो हमें कम लाभ प्राप्त होते है या फिर अशुभ प्रभाव भी मिलसकते है,

इसलिए यह बहुत जरुरी होता है की हर रत्न को उसकी निर्धारित की गई उंगली में ही धारण किया जाये,
और लाल मूँगा के लिए निर्धारित की गई उंगली अनामिका है। 

 

 Read Also: आपका भाग्यशाली रत्न

 

मेष, वृश्चिक राशि और लग्न के जातकों के लिए लाल मूंगा के लाभ


मंगल के रत्न लाल मूंगा की राशियां मेष और वृश्चिक है और लग्न भी मेष और वृश्चिक है,
इन दोनों राशियों और लग्नों का स्वामी है मंगल, इसलिए इनके स्वामी ग्रह का रत्न लाल मूंगा इन राशियों और लग्न के स्वामियों के लिए अत्यंत लाभकारी होता है,
इन जातकों को तो लाल मूंगा अति आवश्यक रूप से धारण करना चाहिए,
लाल मूंगा धारण करने से इन जातकों का मंगल शुभ, लाभकारी और मजबूत होता है, जीवन की सभी परेशानियों का अंत होता है, दुश्मन इन जातकों को कभी भी नुकसान नहीं पंहुचा पाता है, अगर कर्ज है तो सभी प्रकार के कर्जो से मुक्ति मिलती है,

 मंगल योद्धा है, पराक्रमी है, इसलिए इन जातकों के लाल मूंगा धारण करने से ऐसे ही मंगल के गुण इनमें देखने को मिलने लगते है, जो जातक दब्बू किस्म के होते है वे भी कॉन्फिडेंस से भर जाते है,
मंगल परिश्रमी है, मूंगा धारण करने से आलसी व्यक्ति भी हर कार्य को बढ़ चढ़ कर करने लगता है,

मेष,वृश्चिक ताशी और लग्न के जातकों को मूंगा धारण करने से सरकारी लाभ प्राप्त होते है, सरकारी नौकरी की प्राप्ति होती है, सरकारी ठेकों में सफलता मिलती है, शासन प्रशासन से लाभ मिलता है, जो जातक राजनीती में जुड़े या राजनीती से सम्बंधित है उन्हें लाल मूंगा धारण करने से बहुत लाभ मिलता है,

 

Read Also: लाल मूंगा अंगूठी पहनने के फायदे

इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स, होटल,रेस्टॉरेंट्स, प्रॉपर्टी डीलर्स, जमीन व्यवसाई, जज, वकील, डॉक्टर, सर्जन, पुलिस विभाग, सेना, सरकारी नौकरी, विधुत और अग्नि विभाग, बर्तन व्यवसाई, ट्रेडिंग व्यवसाई आदि कार्यो और नौकरियों से जुड़े हुए मेष, वृश्चिक राशि और लग्न के जातकों के लिए लाल मूंगा उनकी उनत्ति और तरक्की का मार्ग है, इसलिए इन जातकों को लाल मूंगा हमेशा धारण किये रखना चाहिए,

मंगल का रत्न लाल मूंगा भूत-प्रेत, नजर दोष, टोने-टोटकों को ख़त्म करता है, जिन जातकों को ऐसी कोई भी समस्या है, उन्हें लाल मूंगा धारण करना चाहिए, मंगल उनकी इन परेशानियों का नाश करेगा,
ऐसी सभी बाहरी परेशानियों से दूर रखने के लिए छोटे बच्चों के गले में लाल मूंगा धारण कराया जाता है,

मंगल रक्तः से सम्बंधित है, जिन जातकों में रक्तः की कमी है या रक्तः से सम्बंधित बीमारी है, उन जातकों को लाल मूंगा धारण करने से बहुत राहत मिलती है,  अगर हृदय की कोई बीमारी या समस्या है, वो भी कम होती है। 

 

 

अन्य लग्न के जातकों के लिए लाल मूंगा धारण


मेष, वृश्चिक राशि और लग्न के जातकों के आलावा, कर्क, सिंह, धनु और मीन लग्न के जातकों को भी लाल मूंगा धारण करना अत्यंत लाभकारी रहता है, जीवन के सभी क्षेत्रों में उनत्ति मिलती है,
मकर और कुम्भ लग्न के जातक अपनी कुंडली में मंगल की स्तिथि को देखते हुए मंगल की महादशा में लाल मूंगा धारण कर सकते है,

 

Read Also: मूंगा रत्न किस दिन धारण करना चाहिए

किन लग्न के जातकों को लाल मूंगा से दूर रहना चाहिए


वृष, मिथुन, कन्या और तुला लग्न के जातकों को लाल मूंगा से दूर रहना चाहिए, इन जातकों को लाल मूंगा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए,
लाल मूंगा इनके लिए काफी हानिकारक हो सकता है।


लाल मूंगे की पहचान


  1. लाल मूंगा सुर्ख लाल रंग का होता है, उसपर उंगली फेरने से यह बहुत चिकना महसूस होता है,
  2. अगर असली लाल मूंगा के ऊपर एक सुई से पानी की बून्द रखी जाये तो वो फैलेगी नहीं,
  3. असली मूंगे जो जलाने से उसमें से बाल जलने जैसी दुर्गन्ध आती है, क्योंकि मूंगा एक खनिज रत्न नहीं है, मूंगा जैविक रत्न है,
  4. असली मूंगा के ऊपर अगर आप रक्तः की बूँद डालेंगे तो वो उसे सोख लेगा,
  5. अगर असली मूंगे पर ह्यड्रोलिक एसिड डालेंगे तो उसपर कोई प्रभाव नहीं होगा। 



Read Also: मूंगा किस धातु में पहने


लाल मूंगा कैसे धारण करें


लाल मूंगा ताम्बे, सोने या अष्टधातु की अंगूठी में बनवाकर, मंगलवार को शुभ मुहूर्त देखते हुए सुबह सूर्योदय के बाद, अपने इष्ट देव और मंगल देव की पूजा और मंगल मंत्रो का जाप करके ही धारण करना चाहिए,
अन्यथा कोई लाभ नहीं मिलेगा।

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए