पन्ना रत्न किस दिन पहनना चाहिए

पन्ना रत्न किस दिन पहनना चाहिए

पन्ना रत्न किस दिन पहनना चाहिए
पन्ना रत्न किस दिन पहनना चाहिए


बुध का रत्न पन्ना 

बुध का रत्न पन्ना धारण करने में शुभ मुहूर्त और दिन का विशेष ध्यान देना चाहिए, नहीं तो उसके लाभों में कमी आएगी, आइये जानते है पन्ना रत्न किस दिन पहनना चाहिए

पन्ना बुध ग्रह का रत्न है, बुध ग्रह का रंग हरा है और पन्ना भी हरा होता है, इसलिए पन्ना बुध की लाभकारी ऊर्जाओं का संचालन करता है,
बुध ग्रह बुद्धि, वाणी, शिक्षा और व्यवसाय का देवता है, जनकी कुंडली में बुध शुभ होता है, वे व्यक्ति जीवन में शिक्षा और व्यवसाय में बहुत उनत्ति करते है,

जिन जातकों के लिए बुध लाभकारी होता है वे जातक शिक्षा संस्थानों, कला, राजनेता, उच्च व्यापारी, चार्टेड अकाउंटेंट, रेलवे, लेखन, इंजीनियरिंग, अध्यापन, शिक्षण, मूर्तिकार, अभिनेता, कलाकार, प्रिंटिंग प्रेस, प्रकाशक, किताब व्यापारी, कंप्यूटर कार्य आदि जैसे क्षेत्रों में खूब उनत्ति करते है,

मिथुन और कन्या राशि और मिथुन और कन्या लग्न के जातकों को बहुत लाभ देता है पन्ना, इन जातकों को पन्ना जरूर धारण करना चाहिए,

विद्यार्थयों की बुद्धि को बढ़ाता है पन्ना, क्योकि बुध बुद्धि का देवता है, इसलिए जो विद्यार्थी पढ़ाई में कमजोर है या उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते है उन्हें पन्ना जरूर धारण करना चाहिए,
जो विद्यार्थी फॉरेन में जाकर शिक्षा प्राप्त करना चाहते है, उन विद्यार्थियों को भी पन्ना जरूर धारण करना चाहिए,

कारोबर करने वाले व्यक्तियों के लिए बहुत लाभकारी है पन्ना रत्न, बुध व्यापार का कारक है, इसलिए जो व्यक्ति अपने व्यापार और आर्थिक स्तिथि को मजबूत करना चाहते है, उन व्यक्तियों को पन्ना जरूर धारण करना चाहिए,

शारीरिक मजबूती प्रदान करता है पन्ना, जो व्यक्ति हकलाते है, या बोलने में दिक्कत होती है, या एक अच्छे वक्ता बनना चाहते है, ऐसे व्यक्तियों को भी पन्ना जरूर धारण करना चाहिए,

जो व्यक्ति रक्तः की कमी, नाड़ी दोष, वात रोग, गले के रोग, हकलाहट, दमा रोग, मुख और नासिका रोग, गुप्त रोग से पीड़ित है, उन जातकों ठीक होने में  बहुत लाभ देता है पन्ना।  

पन्ना रत्न किस दिन पहनना चाहिए


पन्ना बुध ग्रह का रत्न है, बुध ग्रह का शुभ दिन बुधवार है, इसलिए बुध से सम्बंधित और बुध ग्रह के रत्न पन्ना की अंगुठी, लॉकेट या ब्रासलेट को बुधवार की सुबह सूर्योदय के बाद शुभ मुहूर्त में ही धारण किया जाना चाहिए,
अन्य किसी भी दिन पन्ना रत्न को धारण करने से बचना चाहिए, पन्ने की अंगूठी को कनिष्ठा ऊँगली में धारण करने से सर्वाधिक शुभ लाभ प्राप्त होते है। जब भी पन्ना धारण करें पूर्ण विधि विधान से बुध देव की पूजा करते हुए बुध मन्त्र का जाप करें और धारण करें।

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए