पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान

पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान

 

पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान
पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान

ऐसा नहीं है की पन्ना कोई भी कभी भी धारण कर सकता है, पन्ना धारण करने के भी नियम है, अगर हम उन नियमों की अनदेखी करते है तो पन्ना लाभ की जगह नुकसान भी दे सकता है, आइये जानते है पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान

पन्ना रत्न


पन्ना बुध ग्रह का रत्न है, बुध ग्रह बुद्धि, शिक्षा, वाणी, व्यापार और धन का कारक है, इसलिए पन्ना रत्न धारण करने से इन सभी लाभो की प्राप्ति होती है,
पन्ना रत्न हरे रंग का होता है, हरा रंग गहरा या हल्का भी हो सकता है, इसके अलावा पन्ने का रंग हरे में कुछ नीलापन लिए भी हो सकता है,

पन्ना बुध का रत्न है, इसलिए धारण करने से पहले यह जान लेना आवश्यक होता है की पन्ना किसी व्यक्ति को धारण करना चाहिए, इसके लिए सबसे अच्छा है की पन्ना धारण करने से पहले अपनी कुंडली में बुध की स्तिथि को देख लिया जाये और किसी ज्योतिषाचार्य से परामर्श कर लिया जाये,

 

पन्ना किसे धारण करना चाहिए


कन्या या मिथुन लग्न के जातकों का बुध लग्नेश होता है, इसलिए कन्या और मिथुन लग्न के जातकों के लिए तो पन्ना रत्न सदा के लिए लाभकारी रहता है,
कन्या और मिथुन लग्न के जातकों को पन्ना धारण करने से शिक्षा, बुद्धि, वाणी का प्रभाव, धन, नौकरी और कारोबार में लाभ मिलता है, उनत्ति और तरक्की के रास्ते खुलते है, पन्ना रत्न इन दोनों लग्नो को जीवन भर अपने लाभ प्रदान करता है,

जिन जातकों के जीवन में बुध की महादशा चल रही हो, उन जातकों को अपनी जन्म कुंडली में बुध की स्तिथि को देखते हुए पन्ना जरूर धारण करना चाहिए,

जिन जातकों की कुंडली में बुध मंगल, शनि, राहु या केतु के साथ बैठा है, ऐसे जातकों को बुध को बल देने के लिए पन्ना रत्न धारण करना चाहिए,

यदि किसी जातक की कुंडली में बुध अस्त है, कमजोर है, उन जातकों को भी पन्ना रत्न जरूर धारण करना चाहिए,

वृष, मिथुन, सिंह, कन्या, धनु, मकर और कुम्भ राशि के जातकों के लिए पन्ना धारण करना लाभकारी होता है। 

पन्ना धारण करने के लाभ


1. पन्ना धारण करने से व्यक्ति को समाज में सम्मान मिलता है,

2. अगर आप कला के क्षेत्रों स जुड़े हुए है तो पन्ना आपको बहुत लाभ देता है,

3. पन्ना धारण करने से स्मरण शक्ति बढ़ती है, बुद्धि का विकास होता है,

4. पन्ना रत्न धारण करने से व्यक्ति की वाक शक्ति बढ़ती है,

5. विद्यार्थियों को पन्ना रत्न शिक्षा में बहुत लाभ देता है, उच्च शिक्षा में भी पन्ना रत्न लाभकारी होता है,

6. अगर आप नौकरी में तरक्की और कारोबार में सफलता प्राप्त करना चाहते है तो पन्ना रत्न इसमें बहुत सहायक होता है,

7. बैंक, रेलवे, सरकारी नौकरी वाले, चार्टेड अकाउंटेंट, ट्रेडिंग व्यापारी, स्टूडेंट्स, नेता, अभिनेता, प्रकाशक, किताब व्यवसाई, इंस्टिट्यूट या शिक्षण संसथान चलाने वाले आदि से जुड़े हुए व्यक्तियों को पन्ना बहुत लाभ और उनत्ति देता है, 

पन्ना धारण करने के नुकसान


1. अगर किसी जातक की कुंडली में बुध तृतीय या द्वादश भाव में बैठा हो, तो उस जातक के लिए पन्ना धारण करना हनिकारक होगा,

2. आगे किसी जातक की कुंडली में बुध षष्ठम, अष्ठम यान द्वादश भाव का स्वामी है, तो ऐसे जातकों को पन्ना रत्न से परहेज करना चाहिए, अगर धारण करना ही है तो पहले किसी ज्योतिष से परामर्श प्राप्त कर ले,

3. मेष, कर्क, वृश्चिक, कुंभ और मीन राशि के जातकों को पन्ना रत्न धारण करने से बचना चाहिए, आगे धारण करना है तो पहले किसी वरिष्ठ ज्योतिष से सलाह ले। 

 पन्ना कैसे धारण करें


पन्ना हमेशा चांदी की अंगूठी में धारण करना चाहिए, पन्ना ४ कैरट या उससे ऊपर का ही धारण करे, पन्ना रत्न बुधवार को सूर्योदय के बाद शुभ मुहूर्त देखते हुए धारण करें, पन्ना रत्न पूजा और बुध मंत्रो (ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः- १०८ बार) का जाप करने के बाद ही धारण करे, पन्ना हमेशा कनिष्ठा उंगली में ही धारण करें।

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए