हरा जेड रत्न या मरगज के लाभ

हरा जेड रत्न या मरगज

उपरत्नों में इस रत्न के अपने अलग और चमत्कारी प्रभाव है, जिन्हें प्राचीन काल से ही मनुष्यों द्वारा इस्तेमाल किया जाता रहा है, आइये जानते है हरा जेड रत्न या मरगज के लाभ।

हरा जेड रत्न

रत्न खूबसूरत तो होते ही है साथ ही वे अपनी चमत्कारी और दैविये शक्तियों के लिए भी जाने जाते है, रत्नों को अंगूठी और लॉकेट में तो पहना जाता ही है इसके आलावा आजकल रत्नों के खूबसूरत जेवर भी बनाये जाते है,

आज हम बात करने वाले है एक हरे रंग के रत्न की जिसे जेड बोला जाता है, जेड एक अल्प पारदर्शी हरे रंग का रत्न है, यह रत्न रंग में गहरा हरा या हल्का हरा भी हो सकता है,
जेड को हिंदी भाषा में मरगज के नाम से जाना जाता है,

वैसे तो जेड रत्न के अपने अलग चमत्कारी प्रभाव है, लेकिन यह रत्न हरा होने की वजय से बुध ग्रह से भी सम्बंधित हो जाता है, इस रत्न को धारण करने से व्यक्ति को बुध के भी समस्त प्रभाव प्राप्त होते है।

सूर्य रत्न माणिक्य

जेड रत्न की कहानी

जेड रत्न के बारे में धारणा है की इस रत्न को धारण करने से व्यक्ति अपने जीवन में अपनी सभी मनोकामनाओं की प्राप्ति कर लेता है,
इंसान की मनोकामनाओं में धन, स्वर्ण, जमीन, सुखी पारिवारिक जीवन और अच्छा स्वास्थय ही होता है जो की वो प्राप्त करता है।

प्राचीन समय में चीनी वासी इस रत्न को बहुत सम्मान देते थे, उनकी धारणा थी की यह रत्न बहुत भाग्यशाली है, जेड रत्न को पानी में घिसकर अगर किसी रोगी को पिलाया जाये तो उसके सब रोग ख़त्म होते है और यह रत्न मनुष्य की आयु बढ़ाता है,

आज भी चीनी लोग मरगज रत्न को अपने शरीर पर कई तरह से धारण करते है, मरगज पर सुन्दर कशीदाकारी करके उसके जेवर धारण करते है,

जेड रत्न स्पेन की भाषा का शब्द है जिसका अर्थ होता है शूल पत्थर, स्पेन वासियों का ऐसा मानना था की अगर किसी व्यक्ति को बहुत पीड़ा है तो अगर वह व्यक्ति इस रत्न का प्रयोग करेगा तो उसका नासूर जैसा दर्द भी शांत हो जायेगा,

प्राचीन समय में मरगज रत्न को बहुत प्रभावशाली रत्न माना जाता था इसके प्रमाण हजारों वर्षों पुराने मंदिरो की खुदाई में मरगज रत्न मिलना प्रमाण देता है।

जन्म कुंडली में चंद्र के प्रभाव

मरगज के लाभ

  1. जेड रत्न व्यक्ति की वाक शक्ति बढ़ाता है, उसके व्यक्तित्व में निखार लाता है।
  2. इस रत्न में बुध के प्रभाव होने की वजय से यह बौद्धिक क्षमता को बढ़ाता है,
  3. विद्यार्थियों की याददाशत बढ़ाता है और उन्हें पढ़ने में एकाग्रता देता है,
  4. कारोबार में बरकत देता है, धन कमाने के स्रोत्र बढाता है,
  5. स्किन और चर्म रोगों के लिए लाभदायक होता है,
  6. व्यक्ति की मानसिक शक्ति को बढ़ाता है।

चन्द्र के रत्न मोती के लाभ

मरगज रत्न धारण नियम

मरगज रत्न को कोई भी व्यक्ति धारण कर सकता है, इस रत्न के अपने अलग लाभ है, ग्रहों के हिसाब से इस रत्न को धारण करने की आवश्यकता नहीं पड़ती,

इस रत्न को अंगूठी या लॉकेट में धारण करना चाहिए, इस रत्न को बनाने के लिए चांदी श्रेष्ठ धातु रहती है, धारण करने का शुभ दिन बुधवार सूर्योदय के बाद शुभ मुहूर्त देखते हुए है,
धारण करने से पहले मरगज रत्न की पूजा जरूर करनी चाहिए नहीं तो यह रत्न अपने प्रभाव देने में समर्थ नहीं होगा।

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए