मिथुन राशि के जातक और उनका व्यक्तित्व mithun rashi ratan

मिथुन राशि के जातक

मिथुन राशि के जातक दिखने में आकर्षक होते हैं और अपनी बुद्धि से भी बहुत चतुर होते हैं, इसलिए मिथुन राशि के लोग अपना जीवन बुद्धिमानी से जीते हैं और जीवन के सभी भौतिक सुख प्राप्त करते हैं।

मिथुन राशि के जातक का कद औसत दर्जे का होता है। ज्यादातर दुबले-पतले लोग ही देखे जाते हैं। आकर्षक चेहरा, बाल काले और पतले होते हैं। मिथुन राशि के जातक थोड़े झुक कर चलते हैं।

बुध ग्रह को बुद्धि और वाणी का स्वामी माना जाता है, यही कारण है कि मिथुन राशि के जातक बुद्धिमान और वाक्पटु होते हैं,
मिथुन राशि के लोग बहुत अच्छे वक्ता और चतुर होते हैं।

मिथुन राशि के जातक अपने बुद्धिमान, ज्ञानी और आकर्षक व्यक्तित्व के कारण महिलाओं के बीच विशेष आकर्षण का केंद्र होते हैं।

zodiac-sign

मिथुन जातकों का स्वाभाव

मिथुन एक द्विस्वभाव है, जिसका प्रभाव मिथुन राशि के जातकों पर भी दिखाई देता है, मिथुन राशि के लोग अक्सर अपने जीवन के सभी पहलुओं पर निर्णय लेने में असफल हो जाते हैं और इसका कारण यह है कि वे दोहरे दिमाग वाले होते हैं,
जिसके कारण ये लोग सही समय पर सही निर्णय नहीं ले पाते हैं और बार-बार अपने निर्णय बदलते रहते हैं।
नतीजतन, ये लोग अपने जीवन में कई महत्वपूर्ण और सुनहरे अवसरों से चूक जाते हैं।

लेकिन कहीं न कहीं इनका दोहरा स्वभाव फायदेमंद भी साबित होता है और उन्हें बहुमुखी प्रतिभा का धनी भी बनाता है। यह एक ही समय में एक रचनात्मक व्यक्तित्व भी बनाता है।
इनका दोहरा स्वभाव कभी इनके लिए हानिकारक तो कभी फायदेमंद साबित होता है।

वे दूसरों के हाव-भाव समझने में बहुत तेज होते हैं, स्वभाव से दयालु और आध्यात्मिक होते हैं, अपने भाइयों और बहनों से प्यार करते हैं।

मिथुन राशि के जातक कोई भी काम जल्दबाजी में नहीं करते बल्कि समझदारी से आगे बढ़ने में विश्वास रखते हैं, अचानक किसी पर भी भरोसा करना उनके लिए बहुत मुश्किल होता है।

लग्नानुसार रत्न निर्धारण

लेकिन अगर कोई उन पर अपना भरोसा बनाता है, तो वे जीवन भर उस रिश्ते को बनाए रखने में विश्वास करते हैं। उनके मित्रों की संख्या कम होती है, वे अपने मित्रों के सुख-दुःख में समान रूप से शामिल होते हैं और किसी के जीवन में अनावश्यक रूप से दखल देना इन्हें पसंद नहीं होता है।

मिथुन लग्न के जातकों का साहित्य सृजन की ओर विशेष प्रभाव होता है, क्योंकि उनमें ज्ञान और शिक्षा प्राप्त करने का अत्यधिक जुनून होता है। नतीजतन, वे अच्छे लेखक और कवि भी होते हैं।

मिथुन राशि के जातक कभी भी किसी एक कार्य से संतुष्ट नहीं होते हैं, इसलिए एक साथ कई कार्य करने और कार्यों को बार-बार बदलने में रुचि होती है। इस वजह से उनके सारे काम या तो पूरे नहीं होते या देरी से हो जाते हैं और वे अपनी मेहनत के मुताबिक सफल नहीं हो पाते हैं। इन सब कारणों से मिथुन राशि के जातक हीन भावना से भी ग्रस्त रहते हैं।

मिथुन राशि के लोगों में मेहनत करने की क्षमता अच्छी होती है, लेकिन अस्थिर बुद्धि के कारण ये लोग किसी एक काम में विशेष दक्षता हासिल नहीं कर पाते हैं। उनके उच्च बौद्धिक स्तर के कारण उन्हें धीरे-धीरे लेकिन निश्चित रूप से सफलता मिलती है।

भाग्यशाली रत्न

महिलाओं के बीच मिथुन जातक

मिलनसार मिथुन राशि के लोग अपने आकर्षक व्यक्तित्व का पूरा फायदा उठाते हैं और अक्सर ये लोग महिलाओं की ओर बहुत आकर्षित होते हैं और इनके जीवन में कई महिला मित्र हो सकती हैं।
इनका सेक्स के प्रति विशेष रुझान होता है, जिसके कारण ये लोग महिलाओं को संतुष्ट करने में सक्षम होते हैं।

मिथुन राशि के जातकों के जीवन में प्रेम प्रसंगों का विशेष महत्व देखा गया है, ये लोग महिलाओं की ओर बहुत आकर्षित होते हैं और इनमें ऐसी कला भी होती है कि ये बहुत जल्द महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित कर लेते हैं।
लेकिन मिथुन राशि के जातक अपने रोमांटिक स्वभाव के कारण प्रेम या वैवाहिक जीवन में कभी भी सफल नहीं हो पाते हैं।

मिथुन जातक और करियर

मिथुन राशि के लोगों को ऐसा काम पसंद नहीं होता जिसमें शारीरिक मेहनत शामिल हो, उन्हें ऐसे ऑफिस का काम पसंद होता है जो बुद्धि के इस्तेमाल से किया जाता है, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि व्यक्ति को पढ़ने और ज्ञान प्राप्त करने का बहुत शौक होता है, दूसरा वह हर चीज को लेकर बहुत उत्सुक होता है।
मिथुन राशि के जातक अपनी बुद्धि के बल पर लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने में माहिर होते हैं, अपनी बुद्धि और विनोदी स्वभाव से सभी को चकित कर देते हैं। दूसरों का मजाक उड़ाने में पीछे न रहें।

मिथुन राशि के लोग एक अच्छे वक्ता होते हैं, जिसके कारण उनमें नेतृत्व के बहुत अच्छे गुण होते हैं और ये लोग एक अच्छे नेता के रूप में अपनी अच्छी पहचान भी स्थापित कर सकते हैं।

ऐसे लोग जो सांस्कृतिक गतिविधियों, लेखन, शिक्षण या संगीत से जुड़े हैं, उन्हें भी जीवन में अच्छी सफलता प्राप्त करते देखा जा सकता है। मिथुन राशि के जातकों को अपनी तर्क क्षमता के बल पर अच्छी सफलता प्राप्त करते देखा जा सकता है।

mithun rashi ratan

मिथुन जातकों के लिए उनका सर्वोतम भाग्यशाली रत्न पन्ना है, पन्ना धारण करने से मिथुन जातक अपने जीवन के हर क्षेत्र में तरक्की और उनत्ति करते है, शिक्षा में सफलता, कारोबार में सफलता, समस्त सांसारिक लाभ, सफल प्रेम विवाह, सुखी वैवाहिक जीवन, विदेश यात्रा, सरकारी नौकरी और सरकारी कार्यों में सफलता प्राप्त होती है,

मिथुन जातकों को चांदी की अंगूठी में पन्ना जड़वाकर बुधवार को शुभ मुहूर्त में धारण करना चाहिए, है मिथुन जातक को पन्ना रत्न ताउम्र धारण करना चाहिए।

Leave a Comment

सूर्य रत्न माणिक्य कौन धारण कर सकते है पन्ना रत्न किसे पहनना चाहिए